Other News

दिनचर्या

दिनचर्या

बारिश की बूंदों का सीमेंट के फर्श और लोहे की बरसाती पर तड़कना.. बादलों का सूरज को आगोश में लेकर हुमकना.. मस्त पेड़ों का झोंकों संग ठुमकना.. आज की सुबह चुलबुली प्रकृति की अंगड़ाई संग शुरु हुई है.. अंधेरे की अभ्यस्त आंखें, आंगन में इठलाती हल्की रोशनी को एकटक निहार […]

by May 17, 2019 Fursat ke Pal
अजब दौर

अजब दौर

पीली साड़ी वाली और नीली ड्रेस वाली.. फोटोज़, विडियोज़, न्यूज़, इंटरव्यूज़.. किसी भुलावे में मत रहिएगा.. यहां पोशाकों के नाम से पुकारे जाने वाली महिलाएं, किसी फिल्म की हीरोइन या रैंप वॉक करती मॉडल्स नहीं हैं.. बल्कि आपकी और मेरी तरह अपनी ड्यूटी करती हुई आम घरों की आम औरतें […]

by May 15, 2019 Articles
टूटन

टूटन

बारिश, नाम ही काफी हुआ करता था.. चेहरे पर मुस्कान और कलम में जान आ जाया करती.. बूंदें धरती पर गिरें, उस से पहले ही दवात में समेट लेती.. मिट्टी की भीनी खुशबू, बादलों की गड़गड़ाहट, बिजली की चमक, झूम लेने का सबब हुआ करती थी.. सदाबहार के पत्ते हवा […]

by May 15, 2019 Fiction, Fursat ke Pal
पुरुष

पुरुष

अभी अभी एक खबर पढ़ी कि एक पति ने अपनी पत्नी की उंगलियां इसलिए काट डालीं क्योंकि वो आगे पढ़ना चाहती थी.. खून उबल आया, कैसे घटिया लोग हैं इस ज़माने में.. और फिर याद आया, कुछ साल पुराना एक वाकया.. किसी ने चुपके चुपके बतलाया था.. वो अक्सर किसी […]

by May 8, 2019 Articles
टैगोर

टैगोर

प्रिय कवि/लेखक/कलाविद टैगोर का जन्मदिवस हो और पाठकों की वॉल उनकी कविताओं से न सजी हो, ऐसा सम्भव ही कहां… पर मुझे तो रबि दा की स्केचिंग उनके शब्दों से भी कहीं ज़्यादा भाती है… भाव संप्रेषण शब्दों पर निर्भर कहां.. मन में उठती तरंगें, अक्सर रंगों और सुरों में […]

by May 7, 2019 Articles
My Hindi Poems on Mirakee

My Hindi Poems on Mirakee

     

by May 7, 2019 Hindi Poetry
सोवियत नारी

सोवियत नारी

आप में से किसी को “सोवियत नारी” याद है? बढ़िया क्वालिटी का पेपर, रंग बिरंगी तस्वीरें और जाने कितने ही लेख और कहानियां.. 80 के दशक में घर घर पहुंची थी ये पत्रिका.. रूस और भारत की दोस्ती के दिन थे वो.. मीखेल गोर्बाचोव इंडिया आए थे, राजीव गांधी के […]

by May 4, 2019 Articles
प्रेम विवाह

प्रेम विवाह

प्रेम पर मित्र की कविता पढ़ी.. और देर तक सोचती रही कि सही ग़लत, आगे पीछे, परिस्थितियों और परिणामों को सोचकर प्रेम होता है क्या.. और अगर नहीं तो क्या इनसे प्रभावित भी नहीं होता? छोटा सा शब्द है प्रेम.. पर जितना इस पर लिखने कहने का प्रयास हुआ, शायद […]

by May 2, 2019 Articles