Articles

हाथी दांत पर उकेरे बुद्ध के जीवन दृश्य

हाथी दांत

कुछ समय पहले National Museum गई थी… वहां हाथी दांत (Ivory) की बनी चीज़ों का अच्छा खासा कलेक्शन दिखा.. एक पूरा कमरा, सिर्फ और सिर्फ हाथी दांत से बनी कलाकृतियों को समर्पित… ज्वैलरी बॉक्स, पादुका, छोटी छोटी मूर्तियों से लेकर मन्दिर और सिंहासन के पाये तक… उन पर की हुई […]

by March 5, 2018 Articles
वेदना

वेदना

असंवेदनाओं का दौर है….. मैं सालों तक खुशवंत सिंह की Train to Pakistan पढ़ना अवॉयड करती रही.. डरती थी कि कहीं सेंसेशनलिज्म के नाम पर वे हिंदुस्तान पाकिस्तान के बंटवारे को तमाशा न बना दें.. पर फिर उस किताब का 50 वां एडिशन छपा और मैं अपनी जिज्ञासा रोक न […]

by February 27, 2018 Articles
Sridevi Dies at 54, and yet is alive forever

Sridevi Dies at 54, and yet is alive forever

हंसती खिलखिलाती, शरारती आंखों और टेढ़ी मेढी शक्ल बनाती श्रीदेवी किसका दिल न जीत लें भला.. मासूमियत और खूबसूरती का अनोखा मिश्रण था उनमें… और नृत्यांगना तो वे उच्च कोटि की थीं ही.. उनके थिरकते पांव और बुदबुदाते होंठ, जादू सा कर देते.. पर रूप और अदा से कहीं बढ़कर […]

by February 25, 2018 Articles
Binode Behari Mukherjee

Binode Behari Mukherjee

While visiting National Gallery of Modern Art, I was riveted by the sunflowers created by Benode Bihari Mukherjee He was a prominent artist of Shantiniketan, who despite being blind in one eye and weak sighted in another, became famous as a painter and was appointed as a Curator for Nepal […]

by February 17, 2018 Articles

क्या लिखें कैसे लिखें

क्या लिखें और कैसे लिखें, ऐसे दो सवाल हैं, जिनका सामना हर लेखक को करना पड़ता है.. ये सृजनात्मक लेखन के दो मूलभूत प्रश्न हैं.. आप अपनी कविता और कहानी को कैसे लिखें, किन विषयों का चुनाव करें और.. आपका लेखन आपके नज़र और नज़रिए से कैसे प्रभावित होता है, […]

by February 10, 2018 Articles
Divide and Rule

Divide and Rule

मुझे कुछ समझ नहीं आता.. समर्थन या विरोध.. दोनों ही समझ से परे.. जौहर गर्व या शर्म नहीं, किसी खास वक़्त में, चन्द लोगों द्वारा, अपनी समझ व परिस्थिति अनुसार, “करो या मरो” के तहत लिया निर्णय मात्र था.. भंसाली का इस विषय पर फिल्म बनाना, उनकी प्रकृति अनुसार ही […]

by February 6, 2018 Articles
Jamini Roy

Jamini Roy

What do you think, can be achieved by bright colors, straight lines and exaggerated curves? Well, when the brush is wielded by the brilliant Jamini Roy, I would say seven colors and few lines, would create nothing less than magic. As I visited National Gallery of Modern Art and looked […]

by February 6, 2018 Articles
Kamala Das

Kamala Das

Kamala Das, one of the few Women Poets, who munched no words, when it came to men and their so called love.. her poems remain etched on mind and heart long after they are first read. First time reading her during my Master’s, I was taken aback.. here was a […]

by February 1, 2018 Articles, Events