Articles by: Anupama Sarkar

भीष्म साहनी, अमृतसर आ गया है

भीष्म साहनी, अमृतसर आ गया है

कहानी कैसे लिखें, जानिए अनुपमा सरकार के साथ किसी भी कहानी में किरदार बहुत अहम होते हैं। वही जान डालते हैं कथानक में। उनके हाव भाव, वेश भूषा, संवाद व भाषा ही माध्यम बनती है, पाठक और लेखक के बीच। एक चतुर लेखक वही जो चरित्र यूं गढ़ दे कि […]

by May 21, 2020 Fiction, Recital
नीरवता

नीरवता

गहराने लगी है नीरवता उदासी भी जमने लगी है मौन, एकांत, अकेलापन ये शब्द पर्यायवाची हैं या भिन्न मन को अंतर स्पष्ट करने की न व्यग्रता शेष न जिज्ञासा अर्थ का अनर्थ, अंत का होना अनन्त अब उद्वेलित नहीं करता प्रकृति के प्रहरी आंदोलित करने में असक्षम हो चले हैं […]

by May 9, 2020 Hindi Poetry
फिल्में और लेखन

फिल्में और लेखन

जानते हैं दोस्तों! मूवीज़ और लेखन का बहुत बहुत गहरा रिश्ता है। दिखने में ज़रूर लगता है कि फिल्में, हीरो हीरोइन के बलबूते चल जाती होंगी। पर दरअसल कसी हुई कहानी, सशक्त स्क्रिप्ट, और मंजे हुए डायरेक्शन के बिना, अच्छी फिल्म बनाना ही असम्भव है। उपन्यास, कहानी में कुछ पन्ने […]

by May 3, 2020 Articles
14 Videos in a Month

14 Videos in a Month

As the Lockdown began, Mere Shabd Mere Saath decided to up its ante and to post more videos regularly. Today, we have successfully posted 14 videos in a month! April 2020 has been a roller coaster month in many aspects, and at least the achievement of Mere Shabd Mere Saath, […]

by May 1, 2020 Articles
बातें, बाबा नागार्जुन

बातें, बाबा नागार्जुन

बातें / नागार्जुन बातें– हँसी में धुली हुईं सौजन्य चंदन में बसी हुई बातें– चितवन में घुली हुईं व्यंग्य-बंधन में कसी हुईं बातें– उसाँस में झुलसीं रोष की आँच में तली हुईं बातें– चुहल में हुलसीं नेह–साँचे में ढली हुईं बातें– विष की फुहार–सी बातें– अमृत की धार–सी बातें– मौत […]

by April 28, 2020 Hindi Poetry, Recital
दिल्ली और कोरोना

दिल्ली और कोरोना

गाज़ियाबाद के बाद आज नोएडा ने भी दिल्ली के साथ अपने बॉर्डर सील कर दिए, इस आशंका के साथ कि दिल्ली में कोरोना तेज़ी से फैल रहा है और वहां से आने जाने वाले इसे नोएडा गाज़ियाबाद में भी पहुंचा देंगें… सच कहूं, खबर सुनकर झटका लगा… केंद्र में होना, […]

by April 22, 2020 Articles
It Works

It Works

When you hate yourself and Want someone else to Love You It doesn’t work When you love someone and Want that person to Love You back It doesn’t work When you love yourself and Want someone else to Love You too It doesn’t work When someone loves you And wants […]

by April 12, 2020 Poetry

दीवानी

सुनिए मेरी कविता दीवानी, मेरे शब्द मेरे साथ पर ये सरसराती सर्द हवा जब करीब से गुज़रती है जाने क्यों अपनी सी लगती है न बहने का खौफ इसे न थमने से डरती है ऊपर नीचे आगे पीछे पंख फैलाए आंखें मीचे उन्मुक्त गगन में इठलाती है सबसे जुड़ती सबसे […]

by April 9, 2020 Hindi Poetry, Recital