Recital

Gazal: Adam Gondvi

Gazal: Adam Gondvi

Hindi Gazal: Adam Gondvi हिंदी गज़ल: अदम गोंडवी अदम गोंडवी साहब हिंदी गज़ल के जाने पहचाने नाम हैं.. उनकी रचनाएं मिट्टी से जुड़ी हैं, ग्रामीण परिवेश और वहां की मुश्किलों को सामने लाती.. उनकी एक बेहतरीन विशेषता है कटाक्ष और व्यंग्य का सृजनात्मक प्रयोग.. पेश हैं उनकी ऐसी ही दो […]

by November 6, 2017 Recital

कविता पाठ: रंग, यादें

Hindi Kavita: Rang, Yaadein, Anupama Sarkar हिंदी कविता: रंग, यादें, अनुपमा सरकार जीवन में अच्छा और बुरा वक़्त हाथ थामे चलता है.. अक्सर परिस्थितियों के अनुसार ही खट्टे मीठे अनुभव भी मिलते हैं.. और यादों में बस जाते हैं.. इन्हीं पलों को पिरोया है अनुपमा सरकार ने अपनी कविताओं “जीवन […]

by November 2, 2017 Hindi Poetry, Recital

आत्मकथ्य: जयशंकर प्रसाद

जयशंकर प्रसाद जी, छायावाद युग के स्तम्भ कवि माने जाते हैं.. उनकी कामायनी विशुद्ध एहसासों की वैतरणी है.. वे जितना मधुर लिखते थे, उतना ही सारगर्भित भी प्रेमचन्द जी ने जब हंस के आत्मकथा विशेषांक के लिए उनसे कृति भेजने को कहा, तो प्रसाद जी अपने जीवन के सुख दुख, […]

by October 29, 2017 Hindi Poetry, Recital
लेखन की शुरुआत कैसे करें

लेखन की शुरुआत कैसे करें

जब आप लिखने की शुरुआत करते हैं, तो ढेरों सवाल आपके मन में मंडराते हैं… इच्छा बहुत होती है कि आप बेहतरीन लिख पाएं, और खुद को संतुष्ट भी कर पाएं.. आखिर रचनात्मक सृजन से बेहतर सुकून है भी कहां.. परन्तु क्या केवल रचनाएं ही मायने रखतीं है या फिर […]

by October 26, 2017 Articles, Recital
कविता पाठ: मेरी प्यारी सहेली

कविता पाठ: मेरी प्यारी सहेली

कविताएं मन का आइना होती हैं… हमारे परिवेश और दृष्टिकोण की सौंधी सौंधी महक होती है उनमें.. और जो कविता शुरुआती दौर में लिखी जाए, वह तो मन के और करीब आ जाती है और ताउम्र बुलाए नहीं भूलती ऐसी ही एक कविता गढ़ी थी,अपनी तन्हाई से बतियाते हुए.. सुनिए […]

by October 24, 2017 Hindi Poetry, Recital
कविता पाठ: सजीव निर्जीव

कविता पाठ: सजीव निर्जीव

कभी कभी विचारों का रेला यूं उमड़ता है कि बिन शब्दों में ढले, आपको चैन नहीं आता… एक दिन मेट्रो में कुछ ऐसा ही अनुभव हुआ था.. ऐसा लगा मानो, ज़िन्दगी की भागदौड़ में इंसान रोबोट बनता जा रहा है… संवेदनाएं कहीं पीछे छूट रही हैं… और हम बस किसी […]

by October 24, 2017 Hindi Poetry, Recital